बजरंग ने बताया बड़े भाई हरेंद्र का उनकी जिंगदी में महत्व, भाई के जन्मदिन पर लिखा ख़ास मैसेज

By   - 02/12/2020

वर्ल्ड मेडलिस्ट बजरंग पूनिया वर्ल्ड के बेस्ट रेस्टलेर्स में से एक है अभी उनकी वर्ल्ड रैंकिंग नंबर 2 है। बजरंग ने भारत क लिए अनेक मेडल जीते है जिसमे वो 3 बार के वर्ल्ड और 6 बार के एशियाई चैंपियनशिप मेडलिस्ट है।

बजरंग ने अपना पहला वर्ल्ड ब्रोंज मेडल साल 2013 में जीता था। उसके बाद उन्होंने मेडल का रंग बदला और 2013 में सिल्वर मैडल अपने नाम किया। साल 2019 में बजरंग ने देश के लिए ब्रॉन्ज़ मेडल और अपना तीसरा वर्ल्ड मैडल जीतते हुए इतिहास रचा और ऐसा करने वाले वो पहले भारतीय बने साथ ही उन्होंने देश के लिए 65 किलो ग्राम वर्ग में ओलंपिक कोटा भी हासिल किया।

बजरंग की इन सभी उब्लब्धियो में सबसे बड़ा मेडल जुड़ना बाकि है वो है ओलंपिक का मैडल, जिसके लिए वो दिन रत एक कर मेहनत कर रहे है और वो इस पदक को जीतने के सबसे बड़े दावेदार भी है। लेकिन आपको पता है बजरंग को इस मुकाम को हासिल करने में उनके परिवार और खास कर उनके बड़े भाई हरेंद्र पूनिया का बहुत बड़ा योगदान रहा है। आज बजरंग के भाई हरेंद्र पूनिया का जन्मदिन है और खास मौके पर बजरंग ने भाई के साथ एक खूबसूरत फोटो शेयर करते हुए लिखा भाई तुम जैसा कोई नहीं। “जिंदगी का जो सबक तुमने मुझे सिखाया, वह किताबों में भी न था । माँ और पापा के बाद तुम्ही थे जिसने हर सफर पर मेरा हाथ थामे रखा।मेरी जिंदगी में तुम्हारे जैसा दूसरा कोई नहीं ।आपके जन्मदिन पर दुआ है मेरी कि सलामत रहो तुम सारी जिंदगी…हेप्पी बर्थडे भाई……. @harenderpunia85

माता पिता और बड़े भाई के त्याग ने बनाया सफल रेसलर
बजरंग पूनिया का जन्म हरियाणा के झज्जर जिले के कुदान गांव में हुआ थ। 24 फरवरी 1994 को हुआ थ। उनके पिता का नाम बलवान सिंह पूनिया और माता का नाम ओमप्रिया पूनिया है । उनके बड़े भाई हरेंद्र ने बजरंग को रेसलर बनाने में बहुत साथ दिया और बजरंग अपने घर से बाहर अपने सेहत का ध्यान रखें इसके लिए अपनी विदेशी नौकरी तक छोड़ दी थी। एक समय बजरंग का परिवार कठिन आर्थिक स्थितियों से गुजर रहा था। लेकिन बाद में हालात सुधरे लेकिन बड़े भाई ने हमेशा ही बजरंग के खान-पान का खुद ध्यान रखा।

Leave a Comment