जानिये क्यों भारतीय रेस्टलेर्स ने किया टिक-टॉक को अलविदा

By   - 23/05/2020

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बुरी तरह से प्रभावित हो रही हमारी अर्थव्यवस्था को अब लोगों ने इसे सीधे तौर पर चीन को जिम्मेदार माना है और इस कड़ी में चीन में बने उत्पाद से लेकर मोबाइल एप का बहिष्कार तेज हो गया हैं। अब इस सिलसिले में एशियाई चैंपियनशिप गोल्ड मेडलिस्ट रेसलर दिव्या काकरान भी शामिल हो गई हैं। उन्होंने सुविख्यात एप टिक-टॉक से अपना अकाउंट डिलीट कर उसे अनइंस्टॉल कर दिया है।

कॉमनवेल्थ गेम्स मेडलिस्ट ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा स्वदेशी अपनाने की अपील का पालन करते हुए इस एप को डिलीट किया। दिव्या को टिक-टोक बहुत पसंद था और वो रोज़ उसपर नए नए वीडियो अप लोड करते थी। चैंपियन पहलवान के टिक-टोक पर 97.8K फोल्लोवेर्स थे।

“मैं प्रधानमंत्री मोदी द्वारा स्वदेशी अपनाने की अपील का पालन करते हुए इस एप को डिलीट कर रही हूँ। मुझे टिक-टोक बहुत पसंद है लेकिन यह एक चाइना का एप है। लोग इसको बहुत ज्यादा इस्तेमाल कर रहे है तो मैं सभी से यह कहना चाहती हूँ आप प्रधानमंत्री मोदी द्वारा की अपील का पालन करे और स्वदेशी अपनाएं ” दिव्या ने वीडियो मैसेज के साथ रेसलिंगटीवी को बताया।

दिव्या से पहले इस मुहिम को ओलिंपिक पदक विजेता योगेश्वर ने ट्विटर के जरिए शुरू किया था जिसमें कहा गया कि टिक टाॅक एक चाइनीज एप है तो क्या ऐसे एप को हमें अपने फोन से अनइनस्टाल कर देना चाहिए। योगेश्वर दत्त ने खुद भी इस एप को हटा दिया।

योगेश्वर दत्त ने कहा, “चीन के खिलाफ यदि हम नहीं संभले फिर कब संभलेंगे। क्योंकि चीन हमें लगातार नुकसान पहुंचा रहा है। जिस कोरोना के खिलाफ आज पूरा विश्व जुझ रहा है उसके लिए भी यही जिम्मेदार है। इसलिए यह बड़ा मौका है जब हम एकजुटता के साथ आगे बढ़ते हुए इसका विरोध करें” ।

वर्ल्ड चैंपियनशिप मेडलिस्ट पूजा ढांडा ने भी इस चाइना की आप को इस्तेमाल करना बंद कर दिया है साथ ही U23 सिल्वर मेडलिस्ट पूजा गहलोत ने भी इस एप का बहिष्कार किया ।

Wrestling (Kushti) fans can catch Live Streaming, Highlights, News, Videos, Photos, Results and Rankings on WrestlingTV

Leave a Comment