ग्रीको रोमन स्टार पहलवान सुनील कुमार कर रहे है ‘नेशनल कैंप’ शुरू होने का इंतज़ार

By   - 11/08/2020

सुनील कुमार शायद सबसे अच्छे ग्रीको-रोमन पहलवान हैं जो की अभी तक इंडिया ने प्रोडूस किए है। उनका सुभाव बहुत शांत है, लेकिन वो जब मेट पर जाते है बिलकुल अलग हो जाते है और अपने ओप्पनेंट्स को हवा में उठा कर फेंकते दिखते है। जनवरी में रोम रैंकिंग सीरिज़ में उन्होंने सिल्वर मैडल और एशियाई चैंपियनशिप में उन्होंने गोल्ड मैडल जीता था जिससे, उनसे टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने की उम्मीद बड़ी है।

लेकिन कोविड -19 के कारण पहलवान की सभी योजनाओं पर खराब असर पड़ा है। उन्होंने कहा, “मैं एशियाई क्वालीफायर के लिए तैयार था और यह अच्छा होता अगर उन्हें कार्यक्रम के अनुसार आयोजित किया जाता। लेकिन अब कुछ कर नहीं सकते हम जो कर सकते है वो कर रहे है और अपनी तैयारियों में लगे हुए है”।

पहलवान अब कोच रणबीर के नेतृत्व में रोहतक, हरियाणा के मेहर सिंह अखाडा में ट्रेनिंग कर रहे है। सुनील बताते है, ट्रेनिंग अब और अधिक मजेदार लग रही है क्योंकि ऐसा लग रहा जीवन वापस आ गया है जैसा कि लॉकडाउन से पहले था। “मैंने लॉकडाउन के दौरान भी कड़ी ट्रेनिंग की थी। लेकिन पहले ऐसा कभी नहीं हुआ अखाड़े में फिर से ट्रेनिंग शुरू कर के इतना मज़ा आ रहा हो”।

हालाँकि उनके लिए लाइफ बहुत इम्पोर्टेन्ट है, लेकिन कुमार को हरियाणा के सोनीपत में नेशनल कैंप के फिर से शुरू होने का बेसब्री से इंतजार है। “हम सभी जल्द ही इसके फिर से शुरू होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। मैंने इस पर अपडेट लेने के लिए हमारे मुख्य कोच हरगोबिंद से बात की थी। उन्होंने मुझसे कहा कि यह जल्द ही फिर से शुरू हो सकता है। “मैं ज्यादातर ग्रीको-रोमन पहलवानों के संपर्क में रहा हूं और हम सभी चाहते हैं कि कैंप फिर से शुरू हो।”

भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) द्वारा कोरोना के मद्देनज़र ट्रेनिंग कैंप को निलंबित कर दिया गया था। SAI ने कैंप लगाने का फैसला किया था लेकिन कई खिलाड़ियों ने कोविड -19 के मद्देनज़र इस पर आशंका व्यक्त की है। और अभी, सभी खिलाड़ी अपने घर या किसी अखाड़े में प्रैक्टिस कर रहे है।

Leave a Comment